Kriya (क्रिया)


जिस शब्द से किसी कार्य का करना या होना पाया जाता है उसे क्रिया कहते हैं ।

उदाहरण : पढना, खेलना, दौड़ना, खाना, पीना, सोना ।

क्रिया के भेद

क्रिया के मुख्य रूप से दो भेद होते हैं :
(१) आकर्मक क्रिया (Non-Finite Verb)
(२) सकर्मक क्रिया (Finite Verb)

अकर्मक क्रिया (Akarmak Kriya)

जिस क्रिया का कार्य कर्ता तक ही सीमित रहे अर्थात जहाँ कर्म का आभाव होता है उसे अकर्मक क्रिया कहते हैं ।


उदाहरण :
मीरा गाती है ।
मोहन खेलता है ।

सकर्मक क्रिया (Sakarmak Kriya)

जिस क्रिया के कार्य का फल कर्ता से निकलकर दूसरी वस्तु पर पड़ता है अथवा जिसमे कर्म भी होता है उसे सकर्मक क्रिया कहते हैं ।


उदाहरण :
मीरा भजन गाती है ।
मोहन फुटबाल खेलता है ।

Learn more in Hindi Grammar

Kriya in Hindi

What is definition / paribhasha of Kriya (Verb) in hindi grammar? क्रिया Kya Hai and kriya ke prakar / bhed with some examples. Types of Kriya : Akarmak and Sakarmak.

Learn English Free Hindi Dictionary Used Cars In India Fresh Jobs In India Fresh Property In India On Road Price In India